भोपाल में थोक बाजार अब शाम को जल्दी होंगे बंद

राजधानी भोपाल में थोक बाजार अपने तय समय पर सुबह 10:00 बजे खुलेंगे, लेकिन उनके बंद होने का समय शाम से 7:00 बजे हो गया है. यह व्यवस्था थोक बाजार में लागू कर दी गई है.

भोपाल. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में तेजी से फैलते कोरोना संक्रमण के चलते अब थोक बाजार शाम को जल्द बंद होंगे. व्यापारियों ने यह फैसला लिया है. हालांकि, कलेक्टर के आदेश अनुसार रात 10 बजे तक बाजार खोलने की अनुमति है. भोपाल किराना व्यापारी महासंघ ने फैसला लेते हुए सभी तरह के थोक व्यापारियों को शाम को जल्द मार्केट बंद करने का आह्वान किया है. अब शहर के थोक बाजार शाम 7:00 बजे तक ही खुलेंगे. यह फैसला बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण के चलते लिया गया है.

राजधानी भोपाल में थोक बाजार अपने तय समय पर सुबह 10:00 बजे खुलेंगे, लेकिन उनके बंद होने का समय आज शाम से 7:00 बजे हो गया है. बुधवार से यह व्यवस्था थोक बाजार में लागू कर दी गई है. इस व्यवस्था के तहत जनकपुरी, जुमेराती और हनुमान गंज के थोक दाल, चावल, शक्कर, खाद्य तेल, आटा और मैदा समेत सभी किराना सामग्री की थोक दुकानें शाम 7 बजे बंद हो जाएंगी.

रात 10 बजे तक खुलने की परमिशन

राजधानी भोपाल में फिर से तेजी से कोरोना फैल रहा है. कोरोना संक्रमण का जो आंकड़ा रोज 100 या फिर एक 50 रहता था, अब यह 200 या फिर 250 से ऊपर चला जाता है. ऐसे में व्यापारियों ने बढ़ते आंकड़े के चलते चिंता जाहिर की और उन्होंने आपसी सहमति के बाद थोक बाजार को शाम 7 बजे बंद करने का बड़ा फैसला लिया, जबकि कलेक्टर के आदेश के अनुसार रात 10  बजे तक थोक बाजार खुल सकते हैं. इसके अलावा रविवार को भी मार्केट खोलने पर किसी तरीके का प्रतिबंध नहीं है. इसके बावजूद व्यापारियों ने रविवार को भी मार्केट बंद करने की अपील की है. यदि कोई जरूरी काम है तो दुकानें खोली जा सकती हैं, लेकिन शाम 7:00 बजे दुकानें सभी को बंद करनी होंगी.

लोगों से की जाएगी अपील

संघ के महासचिव अनुपम अग्रवाल ने कहा कि दुकानदार ग्राहकों से सोशल डिस्टेंस और मास्‍क लगाने की अपील कर रहे हैं. बाजार में शाम के वक्त भीड़ ज्यादा होती है, इसलिए कोरोना फैलने का खतरा सबसे ज्यादा बना रहता है. शाम को समय रहते दुकानें बंद होने से भीड़ कम हो जाएगी और कोरोना की चेन तोड़ने में मदद भी मिलेगी. थोक व्यापारी लोगों को जागरूक करने का भी काम कर रहा है. साथ ही ऑनलाइन पेमेंट पर सब का फोकस है और ग्राहकों को भी ऑनलाइन पेमेंट करने की अपील की जा रही है. इतना ही नहीं शासन की जो गाइडलाइन है, उसका पालन भी सभी दुकानदार कर रहे हैं और ग्राहकों से भी इसका पालन करने के लिए कहा जा रहा है.

Leave a Reply