कांग्रेस भाजपा-सिंधिया को घेरने उतरी, भ्रष्टाचार पर किया सवाल- सिंधिया समर्थक मंत्री क्या रहे थे?

0

कांग्रेस अब भारतीय जनता पार्टी और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को बयान व सदस्यता कार्यक्रम के आयोजन को लेकर घेरने के लिए मैदान में उतरी है।

सोमवार को विधायक एवं पूर्व मंत्री लाखन सिंह ने पार्टी दफ्तर पर प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि श्री सिंधिया 3 दिन से कह रहे कि ग्वालियर चंबल संभाग में मेरी वजह से 26 सीटें कांग्रेस को मिली थीं, तो वे ये भी बताएं कि 2003, 2008 और 2013 में उनके चेहरे पर पार्टी को इतनी सीटें क्यों नहीं मिली थीं? एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यदि कांग्रेस सरकार में भ्रष्टाचार था तो उनके समर्थक 6 मंत्री क्या कर रहे थे? फिर खुद उनके ही समर्थक रणवीर जाटव ने उस वक्त के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट पर और कार्यकर्ताओं की शिकायत के कारण गोविंद राजपूत ही भ्रष्टाचार की सुर्खियों में रहे।

लाखन सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार की मंत्री इमरती देवी डबरा क्षेत्र में सिंध नदी के घाटों पर अवैध रेत खनन करा रही हैं, क्या श्री सिंधिया और सीएम उन्हें रोक पाएंगे। कांफ्रेंस में पार्टी के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत ने कहा कि श्री सिंधिया आज शिवराज सिंह चौहान की तारीफ के कसीदे पढ़ रहे हैं, तो वे पहले झूठ बोलते थे या अब झूठ बोल रहे हैं। शहर अध्यक्ष डॉ. देवेंद्र शर्मा ने भी अपनी बात कही।

कांग्रेस नेताओं ने पड़ाव थाने पहुंचकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सतेंद्र सिंह को पड़ाव, विश्व विद्यालय, गोले का मंदिर और झांसी रोड पुलिस थानों के शिकायती आवेदन देकर मांग रखी है कि कलेक्टर व एसपी के खिलाफ केस दर्ज किया जाए। पार्टी के ग्वालियर चंबल संभाग मीडिया प्रभारी केके मिश्रा ने बताया कि इन दोनों अधिकारियों ने कोविड़-19 को लेकर भारत सरकार द्वारा 31 अगस्त 2020 तक जारी की गई गाइड लाइन और हर रविवार को होने वाले लॉकडाउन के नियम का उल्लंघन कर भाजपा को राजनैतिक लाभ पहुंचाया है। उन्होंने बताया कि यदि पुलिस केस दर्ज नहीं करती है तो कांग्रेस मामले को हाईकोर्ट ले जाएगी।

Leave a Reply