वर्ष 2020-21 का बजट निराशाजनक:कमलनाथ

एमएसएमई के बजट 34.72 प्रतिशत की कमी की गई

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि राज्य सरकार का 2020-21 का विनियोग अध्यादेश महामारी की असामान्य परिस्थितियों में लाया गया है। इसका सबसे प्रतिकूल प्रभाव प्रदेश की खेती पर पड़ा है। मगर दुर्भाग्यपूर्ण है कि भाजपा सरकार ने सबसे ज्यादा कमी कृषि क्षेत्र से संबंधित प्रावधानों में की है।

किसानों की क्रय शक्ति बढ़ने पर ही प्रदेश की अर्थव्यवस्था सुचारू रूप से चलती है, लेकिन पिछले साल के बजट की तुलना में 53 फीसदी तक की कमी कृषि बजट में कर दी गई है। एमएसएमई के बजट 34.72 प्रतिशत की कमी की गई है।

Leave a Reply