विकास दुबे एनकाउंटर मामले की सुप्रीम कोर्ट आज करेगा सुनवाई, जांच को लेकर होगा फैसला

विकास दुबे एनकाउंटर:

उत्तर प्रदेश के कानपुर में बिकरू गांव के नरसंहार के मास्टरमाइंड विकास दुबे के एनकाउंटर की CBI, NIA या SIT से जांच कराने को लेकर दायर जनहित याचिकाओं पर आज सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाई होगी। चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजेआई) एसए बोवडे की बेंच इस पूरे मामले की सुनवाई करेगी। इस बेंच में जस्टिस आर सुभाष रेड्डी और जस्टिस ए बोपन्ना भी मौजूद रहेंगे। हालांकि विकास दुबे की मौत की जांच के लिए यूपी सरकार ने एक आयोग का गठन किया है। इलाहाबाद हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज शशिकांत अग्रवाल इस मामले की जांच करेंगे। यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने इस कमीशन के लिए उनकी नियुक्ति की है।

सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई:

दरअसल कानपुर में 2 जुलाई की रात 8 पुलिसकर्मियों की हत्या और उसके बाद कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे समेत 6 लोगों को पुलिस की तरफ से मार गिराए जाने के मामले में जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में कई याचिकाएं दाखिल हुई हैं। इन याचिकाओं में यह भी कहा गया है कि कोर्ट जांच की निगरानी भी करे। सुप्रीम कोर्ट में वकील घनश्याम उपाध्याय और वकील अनूप अवस्थी ने जनहित याचिका दायर की है। याचिका में यूपी पुलिस की भूमिका की जांच की मांग की गई है। आपको बता दें कि यह याचिका मुठभेड़ से पहले देर रात दायर की गई थी, जिसमें विकास दुबे की भी एनकाउंटर किए जाने की आशंका जाहिर की गई थी।

दरोगा केके शर्मा की भी याचिका दाखिल:

वहीं इस पूरे मामले में गिरफ्तार उत्तर प्रदेश पुलिस के सब इंस्पेक्टर केके शर्मा ने भी सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है। दरोगा ने अपनी जान को खतरा होने की संभावना जताई है। साथ ही केके शर्मा ने पूरे मामले की सीबीआई जांच करवाने की भी मांग की है। दरोगा केके शर्मा पर विकास दुबे के लिए मुखबिरी करने का आरोप लगा है।

Leave a Reply